भारत में डच का आगमन | यूरोपियन कंपनियों का आगमन

भारत में डच का आगमन | यूरोपियन कंपनियों का आगमन भारत में डच का आगमन पुर्तगालियों के आगमन बाद भारत में कार्नेलियस हाउट मैन के नेतृत्व में सन 1595-1596 इस्वी के बिच यूरोपीय व्यापारी डच का आगमन होता है। डच यूरोप से सीधे निकलकर सीधे पूर्वी एशिया पहुचता है। उसके बाद वो व्यापार के लिए सबसे पहले इंडोनेशिया पहुच जाता है। और वहाँ पर वे लोग मशालों की व्यापार करते है। मशालों का व्यापार करने का कारण यह भी होता है की यूरोपीय क्षेत्रों में जाड़ो के दिनों में बर्फ के कारण वहाँ मशालों की खेती है। इसीलिए डच इंडोनेशिया...